Thu. Aug 11th, 2022

“शाम रानी की सुहागरात” यह सुमा नाम की एक खूबसूरत युवती की रोमांटिक प्रेम कहानी है, जिसे शाम का अंधापन था। सुमा को शाम का अंधापन था। वह इसे गुप्त रखकर एक स्कूल में शिक्षिका के रूप में काम कर रही थी। हालांकि, राकेश उसके प्यार में पड़ जाता है और उससे शादी कर लेता है। इस कहानी बहुत रोमांटिक तरीके से बताती है कि कैसे एक शाम के अंधेपन से गुजरनेवाली लड़की शादी के बाद अपनी विवाहित जीवन का प्रबंधन करती है।

 

शादी होने के बाद पहली रात में उसके द्वारा लिया गया फैसला उसके शरारती पति को और ज्यादा शरारती बनाता है। राकेश अपनी खूबसूरत अंधे पत्नी के साथ रोमांटिक रातें बिता रहा था। सुमा भी अपने शरारती पति के साथ खुश थी, जो उसे बहुत प्यार करता था। लेकिन एक कामुक खलनायक की बुरी नजर सुमा की खूबसूरती पर पड़ जाती है। वह एक शाम के समय में उसकी पति की अनुपस्थिति में उसका यौन शोषण करने की कोशिश करता है। उसके पति होने का नाटक करते हुए, वह उसके साड़ी पर हाथ डालता है और उसे दुरुपयोग करने की कोशिश करता है।

 

अब सुमा कैसे उसके हाथों से बचती है और कैसे अपने आगे की जिंदगी को रोमांटिकली बिताती है? यह इस कहानी की आत्मा है। यह एक क्राइम थ्रिलर की छाया के साथ चलनेवाली विवाहित जोड़े की शुद्ध रोमांटिक प्रेम कहानी है। जो लोग अच्छे मन से रोमांटिक प्रेम कहानियों को पढ़ना पसंद करते है, वे इसे पढ़ सकते है।

By Suraj

Leave a Reply

Your email address will not be published.