Wed. Feb 1st, 2023

इस शहर को हुआ क्या? आखिर बिना पैंट के लोग बाहर क्यों घूम रहें, यहां देखें वीडियो और तस्वीरें

इस शहर को हुआ क्या? आखिर बिना पैंट के लोग बाहर क्यों घूम रहें, यहां देखें वीडियो और तस्वीरें

सोशल मीडिया पर आज कल कुछ ऐसे वीडियो और तस्वीरें वायरल हो रही जिसमें लोग आपको सार्वजनिक स्थानों पर भी बिना पैंट के घूमते हुए नजर आ रहे हैं। ये तस्वीरों और वीडियो मेट्रो स्टेशन, बस स्टॉप और हर एक सार्वजनिक जगहों की हैं। वीडियो और तस्वीरों को देखने के बाद आप भी सोच में पड़ गए जाएंगे कि आखिर इन लोगों को क्या हुआ है जो ये लोग बिना पैंट के खुले आम घूम रहे हैं और सभी लोग ही ऐसा कर रहे हैं। युवा से लेकर बुजुर्ग, मर्द से लेकर हर औरत तक सभी यहां बिना पैंट के क्यों नजर आ रहे हैं। चलिए हम आपको बताते हैं कि आखिर ऐसा क्यों है।

 

 

नो ट्राउजर्स डे की शुरुआत अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में साल 2002 में हुई थी. यह एक ग्लोबल इवेंट है. हालांकि कोरोना वायरस महामारी के बाद पहली बार 2023 में ही मनाया जा रहा है. महामारी की वजह से इसे आयोजित नहीं किया गया था. इस दौरान लोगों ने शरीर के ऊपरी हिस्से पर सर्दी के कपड़े भी पहने हुए थे.

क्यों मनाया जाता है ये दिन? नो ट्राउजर्स डे का हिस्सा बनने वाले लोगों ने लंदन की प्रमुख सड़कों पर परेड निकाली. इन्होंने बिना पैंट पहने टिकट मशीन का इस्तेमाल किया, स्टेशन के एस्केलेटर्स पर चढ़े और एलिजाबेथ लाइन पर भी टहले. बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, आयोजक द स्टिफ अपर लिप सोसाइटी का कहना है कि इवेंट के पीछे का उद्देश्य लोगों को हंसाना और मजे करना है. आयोजकों ने लोगों को भी इसका हिस्सा बनने के लिए प्रोत्साहित किया. उन्हें फनी अंडरवियर पहनने के लिए कहा गया था, लेकिन ये ध्यान रखने को भी कहा गया कि फन के चक्कर में किसी की भवनाएं आहत नहीं होनी चाहिए.

 

 

नो ट्राउजर्स डे में युवा महिलाओं और पुरुषों के साथ बुजुर्गों ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया है. इस दिन को नो पैंट्स डे भी कहते हैं. आपको ये बात जानकर भी थोड़ा अटपटा लगेगा कि इवेंट में हिस्सा लेने वाले लोगों से कहा गया कि सड़कों पर निकलते समय ऐसे व्यवहार करें कि वह वाकई में अपनी पैंट पहनना भूल गए हैं. तभी कुछ लोग दफ्तर वाले कपड़े पहनकर और हाथों में सूटकेस लेकर निकले.

क्यों लोगों ने पैंट नहीं पहना? दरअसल, यह वीडियो और तस्वीरें ब्रिटेन के लंदन की है। यहां पर नो ट्राउजर्स डे मनया जाता है। इस साल यह इवेंट बीते रविवार को मनाया गया था। इस दिन लोग बिना पैंट के ही अपना दिन बिताते हैं। यह ब्रिटेन में सालों से मनाया जा रहा है। कोरोना में यह इवेंट नहीं हुआ था। कोरोना के बाद 2023 में यह पहली बार मनाया गया। यह एक ग्लोबल इवेंट है और इसकी शुरुआत अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में 2002 से हुई थी। जिसके बाद यह दुनिया के विभिन्न देशों में भी मनाया जाने लगा।

 

 

वीडियो में लोग बिना पैंट के दिखेजैसा कि वीडियो में आप देख सकते हैं कि लोगों ने इस दिन को पैंट नहीं पहना है और अपना काम रोज की तरह ही कर रहे हैं। लोग ऑफिस जा रहे। बाहर निकल कर सड़कों पर बड़े आराम से घूम रहे हैं। मानो इन्हें कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। BBC की रिपोर्ट के अनुसार, लोगों ने नो ट्राउजर्स डे के लिए लंदन के प्रमुख सड़कों पर परेड निकाली। इसका आयोजन करने वाले द स्टिफ अपर लिप सोसाइटी का कहना है कि इवेंट के पीछे का उद्देश्य लोगों को हंसाना और मजे करना है। आयोजकों ने लोगों को भी इसका हिस्सा बनने के लिए प्रोत्साहित भी किया और कहा कि आप फनी अंडरवीयर पहने लेकिन इस बात का जरूर ध्यान रखें कि आपके किसी हरकत से किसी की भावनाएं आहात न हो।

 

इस दिन को ‘नो ट्राउजर्स डे’ कहा जाता है

इस इवेंट में पुरूष, महिलाएं और बुजुर्गों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। वह बिना पैंट के घर से निकले और जानबूझ कर ऐसा रिएक्ट कर रहे थे जैसे सच में ये पैंट पहनना भूल गए हैं। लोग उपर सर्दियों के कपड़े पहनकर और नीचे अंडरवीयर में दिखें। इस दिन को नो पैंट्स डे भी कहा जाता है। वहीं कुछ लोग इसी हुलिए में ऑफिस भी जाते हुए दिख रहे हैं।

रविवार को आयोजित हुए नो ट्राउजर्स डे में हिस्सा लेने वाले लोगों ने लंदन की प्रमुख सड़कों पर परेड निकाली। इन्होंने बिना पैंट पहने टिकट मशीन का इस्तेमाल किया, स्टेशन के एस्केलेटर्स पर चढ़े और एलिजाबेथ लाइन पर भी टहले।

By Suraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *